Recent News

नारायण साकार हरी द्वारा अमर संदेश । 8 मई 2019 से 31 मई 2019 तक । लखीमपुर-खीरी (उत्‍तर प्रदेश)

Naran sakar hari ki arti, Naran sakar hari ki vandhna, Naran sakar hari ke vachan, Naran sakar hari ke pravachan, sakar hari ki arti, Naran sakar hari ki new arti, Naran sakar hari ki new vandhana, Naran sakar hari ki new pravachan,

“नारायण साकार हरी की सम्‍पूर्ण बृहमांण्‍ड में सदा-सदा के लिए जय-जय कार हो”

जगत जननी ममता मयी साकार माता जी की सम्‍पूर्ण बृहमांण्‍ड में सदा-सदा के लिए जय-जय कार हो”

।। मानव धर्म सत्‍य था, हे और रहेगा ।।

मानव मंगल-मिलन सद्भावना समागम द्वारा अमर संदेश: नारायण साकार हरी द्वारा धार्मिक, आध्‍यात्मिक बोध, परम सत्‍ता द्वारा सत्‍य का साथ अथवा सत्‍य वाला कर्म, जीवन्‍त उदाहरण के रूप में प्रस्‍तुत करने के उद्देश्‍य को लेकर कस्‍बों/शहरों/ग्रामीण अंचलो के भ्रमण पर है। मानवत, भाईचारा, अनेकता मे एकता, भेदभाव रहित, सद्ज्ञान, भक्ति वैराग्‍य द्वारा मानव को नारायण साकार हरी की कृपा का अहसास कराना, सेवा, सुमिरन सत्‍य के साथ द्वारा प्रेम, प्रीत, नम्रता, सहन शीलता अथवा मानवीय गुणों को पैदा कराते हुए नये युग का सृजन कराना ही हमारा लक्ष्‍य है। जनहित में जन मानस तक पहॅुचाने के लिये निम्‍नलिखित तिथि और स्‍थान पर मानव मंगल-मिलन सद्भावना समागम का आयोजन होने जा रहा है।

नारायण साकार हरी की आरती, नारायण साकार हरी के प्रवचन, नारायण साकार हरी की वंदना, नारायण साकार हरी की प्रार्थना, नारायण साकार हरी के भजन

स्‍थान: सुन्‍दरवल प्रवास, मीरा लखीमपुर रोड, लखीमपुर-खीरी (उत्‍तर प्रदेश)

दिनांक: 8 मई 2019 से 31 मई 2019 तक ।

समय: प्रात: 9 बजे से अपरान्‍ह : 4 बजे तक।

Naran sakar hari ki arti, Naran sakar hari ki vandhna, Naran sakar hari ke vachan, Naran sakar hari ke pravachan, sakar hari ki arti, Naran sakar hari ki new arti, Naran sakar hari ki new vandhana, Naran sakar hari ki new pravachan,

नारायण साकार हरी की आरती, नारायण साकार हरी के प्रवचन, नारायण साकार हरी की वंदना, नारायण साकार हरी की प्रार्थना, नारायण साकार हरी के भजन

“नारायण साकार हरी की सम्‍पूर्ण बृहमांण्‍ड में सदा-सदा के लिए जय-जय कार हो”

जगत जननी ममता मयी साकार माता जी की सम्‍पूर्ण बृहमांण्‍ड में सदा-सदा के लिए जय-जय कार हो”

।। संगत सूचना ।।

नारायण साकार हरी जी की आज्ञा से सत्‍य के साथ का आयोजन होता है । विभिन्‍न क्षेत्रों में नारायण साकार हरी जी के बच्‍चे स्‍वसुविधानुसार साप्‍ताहिक, पाक्षिक अथवा मासिक सत्‍य के साथ माध्‍यम नारायण साकार हरी जी के नारायण साकार हरी की सम्‍पूर्ण बृहमांण्‍ड में सदा-सदा के लिए जय-जय कार हो महामंत्र को जन-जन तक पहुँचाने को प्रतिबद्ध हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *